Maneka-Gandhi1

जयपुर – केंद्रीय महिला और बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने सुझाव दिया है कि बच्चे के जन्म से पहले ही उसका लिंग पता किया जाना चाहिए ताकि गर्भ में पल रहे बच्चे की सही तरह से निगरानी हो सके।

मेनका ने जयपुर में एक कार्यक्रम में कहा, ‘एक बार जब यह पता चल जाएगा कि गर्भ में लड़का है या लड़की तो बच्चे को मॉनिटर करना आसान हो जाएगा। यह इस मुद्दे को देखना का एक अलग नजरिया है। मैंने यह सुझाव दिया है और इस पर अभी चर्चा चल रही है। अभी कोई फैसला नहीं हुआ है।’

और पढ़े -   देश के 800 शहरों में निकाला गया अमन मार्च, मीडिया से खबर गायब

 यहां बता दें कि बेटी को गर्भ में ही मार डालने के मामले बढ़ने की वजह से गर्भ में बच्चे का लिंग जांच करने पर रोक है।

‘बेटी बचाओ, बेटी पढाओ’ कार्यक्रम को बढ़ावा देने की बात करते हुए उन्होंने कहा कि देश के 61 और जिलों में इसका विस्तार किया जाएगा। इस कार्यक्रम को देश के 100 जिलों में शुरू किया गया था। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहल ‘बेटी बचाओ, बेटी पढाओ’ कार्यक्रम के अच्छे नतीजे मिले हैं।

और पढ़े -   न्यूज़ एंकर बोली "बच्चों की मौत का मुद्दा ना उठायें, वन्देमातरम पर बहस करें"
Web Title – Maneka Gandhi Says Sex Determination Tests Should Be Made Compulsory
Keywords – Meneka gandhi, sex determination,abortion

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE