jamima hayat

इस्लाम भारतीय समाज में अब सिर्फ धर्म ही नही रहा बल्कि राजनितिक का एक ऐसा मुद्दा बन गया है जो कभी फेल नही होता। लोग अपनी मांगे मनवाने को लेकर इस्लाम अपनाने के धमकी देते है, सरकार से नाराज़ लोग इस्लाम इस्लाम में जाने की बात कहते है, ऐसा ही एक मुद्दा राजस्थान में देखने को मिला जहाँ मरीजों ने महिला डॉक्टर पर इस्लाम मानने की सलाह देने का आरोप लगाया है।

और पढ़े -   जब सिख युवकों ने अपनी जान पर खेलकर मस्जिद और क़ुरान की हिफाज़त की

ये मामला है राजस्थान के बीकानेर का जहाँ डॉक्टर ज़मीमा हयात के खिलाफ मरीजों ने शिकायत दर्ज करायी है मरीजों के अनुसार डॉक्टर कहती है की इस्लाम का अनुसरण करो फलां बीमारी दूर हो जाएगी। इसके बाद सीएमएचओ डॉ. देवेंद्र चौधरी ने जमीमा हयात को चेताया कि वे ऐसा न करें। लेकिन महिला डॉक्‍टर ने इस पर ध्‍यान नहीं दिया और उनकी प्रेक्टिस जारी रही। हाल ही में उन्‍हें ताजा नोटिस जारी किया गया है।

और पढ़े -   जब सिख युवकों ने अपनी जान पर खेलकर मस्जिद और क़ुरान की हिफाज़त की

खबरों के अनुसार, इस संबंध में प्रधानमंत्री कार्यालय ने भी जांच करने का आदेश दिया है। इसमें कहा गया है कि यदि आरोप सही पाए जाएं तो उचित कार्रवाई की जाए। पीएमओ को वेबसाइट पर इस बारे में शिकायत की गई थी। मनीष सिंघल नाम के शख्‍स ने बताया कि वह जमीमा के पास अपनी आठ साल की बेटी के इलाज के लिए गए थे। उन्‍होंने बताया कि कैसे इस्‍लाम का अनुसरण करने से उनके परिवार की सारी समस्‍याएं दूर हो जाएंगी। इलाज के दौरान उन्‍होंने इस्‍लामिक वाक्‍य भी बोले। उनके खिलाफ पहले भी इस तरह की शिकायतें आई थीं। इसके चलते कई बार उनका ट्रांसफर भी हुआ। जमीमा का भाई भी डॉक्‍टर है और वह काफी मशहूर हैं।

और पढ़े -   जब सिख युवकों ने अपनी जान पर खेलकर मस्जिद और क़ुरान की हिफाज़त की

Rajasthan woman Muslim Doctor gets notice for advising patients to follow Islam

keywords – Muslim,Doctor,Islam,Advice,PMO,Rajasthan


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE