500

देश में बड़े नोट बंद होने के बाद से अलग अलग प्रतिक्रियां सामने आ रही है, जैसा की कल से सोशल मीडिया पर कहा जा रहा था की नोट बंद होने की खबर सुनकर व्यापारियों को हार्ट अटैक पड़ना शुरू हो जायेंगे लेकिन यह वाकये सच साबित होने लगे, ताज़ा ख़बरों के मुताबिक कुल्लू के एक व्यापारी के घर में 7 लाख कैश होने के बाद जब उन्होंने नोट बंद होने की खबर सुनी तब उन्हें दिल का दौरा पड़ गया आनन फानन में घरवालो ने उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया है.

दैनिक जागरण की खबर के अनुसार कुल्लू के कई स्थानों में दवाई विक्रेता छोटे नोट न होने से पांच सौ व एक हजार रुपये देने वाले लोगों को दवाई नहीं दे रहे है। रामपुर में बीमार एक छोटे बच्चें के पिता को दवाई इसलिए नहीं मिल पाई कि उसके पास 500 रुपये का नोट था। यही हाल धर्मशाला, आईजीएमसी व टांडा अस्पतालों में भी देखने को मिल रहा है। जिला कुल्लू में एक कारोबारी के पास घर में सात लाख का कैश होने पर हार्ट अटैक होने की सूचना है। उसे अस्पताल में दाखिल करवाया गया है।

उधर, हिमाचल के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने मंडी में पहुंचते ही पीएम नरेंद्र मोदी के इस निर्णय का स्वागत किया है। ऊना में एक कार्यक्रम में पहुंचे भाजपा नेता एवं मुख्यमंत्री शांता कुमार ने भी कहा है कि केंद्र सरकार का बड़े नोट बंद करने का फैसला भ्रष्टाचार, काला धन, आतंकवाद, नशे को रोकने में कारगर सिद्ध होगा। इस फैसले से गरीबी मिटने के साथ अर्थव्यवस्था सहित ही कई दूरगामी परिणाम सामने आएंगे।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें