नई दिल्ली: आपने पिछले वर्ष पॉकेमान गो गेम के बारे में सुना होगा या खेला भी होगा, उस गेम को खेलते हुए खेलने वाले को अपने आसपास की चीजों का ध्यान भी नही रहता था और कई बार वो हादसों के शिकार भी हो जाते थे. उस गेम की सफलता को देखते हुए उसी तर्ज़ एक और गेम बनाया गया है जिसका नाम है ‘ब्लू व्हेल’ लेकिन इस गेम की सबसे कुख्यात बात यह है की यह गेम बहुत बड़ी तादात में लोगो की जान ले रहा है

सांकेतिक फोटो

अब तक कुल मिलाकर रूस में इस गेम से 130 बच्चे ख़ुदकुशी कर चुके है और अब यह गेम ब्रिटेन में लांच होने जा रहा है. जान करने पर यह सामने आया की इस गेम को खेलने से बच्चे डिप्रेशन में चले जाते है. इस वजह से वो ख़ुदकुशी का फैसला ले लेते है.’ब्लू व्हेल’ गेम सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर खेला जाता है. अंतरराष्ट्रीय मीडिया में इस गेम के बारे में काफी चर्चा हो रही है.

कैसे मजबूर होते है बच्चे ख़ुदकुशी करने के लिए

अगर आप इस गेम को खेलना शुरू करेंगे तो आपको एक ‘मास्टर’ मिलता है. यही मास्टर अगले 50 दिनों तक आपको यानी यूजर को कंट्रोल करता रहेगा. हर रोज वह आपको एक टास्क देता है. इनमें से ज्यादातर टास्क ऐसे होते हैं, जिनमें खुद को नुकसान पहुंचाना होता है. उदाहरण के तौर पर खुद के खून से ब्लू व्हेल बनाना, दिन-दिन हॉरर फिल्में देखना और देर रात को जागना. इन्हीं टास्क को पूरा करने के दौरान बच्चे डिप्रेशन के शिकार हो जाते हैं. इस गेम में 50वें दिन खेलने वाले को जान देकर विजेता बनने की बात कही जाती है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE