ओसामा बिन लादेन का शहादत दिवस मनाने पर छात्रों पर नहीं होगी कार्रवाई

Won’t act if students hold Osama event: Princeton University President

भले ही भारत सरकार में केंद्रीय मंत्री वैंकेया नायडू यह बयान देकर सवाल उठाया था कि क्या अमेरिका की कोई यूनिवर्सिटी ओसामा बिन लादेन की पुण्य तिथि मनाने की इजाजत देगी। अब इसका जवाब अमेरिका की एक यूनिवर्सिटी के अध्यक्ष ने दिया है। अमेरिका की प्रिंसटन यूनिवसिर्टी के अध्यक्ष क्रिस्टोफर एल आईएगरबर ने दिया है कि अगर हमारे यूनिवर्सिटी में ऐसा आयोजन होता है तो हम ऐसे आयोजन को बर्दाश्त करना होगा और चाहिए। लोग इस तरह के बयानों को लेकर अपना गुस्सा जाहिर कर सकते हैं।

और पढ़े -   इजरायल द्वारा स्वास्थ्य कानूनों के उल्लंघन पर संयुक्त राष्ट्र को सौंपी रिपोर्ट

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक  उन्होंने कहा कि प्रिसंटन यूनिवर्सिटी लोगों के मूलभूत अधिकारों को समझती हैं और ऐसे भाषणों को बर्दाश्त कर सकती है। उन्होंने कहा कि ऐसे भाषणों को आप अनुशासनात्‍मक कार्रवाई करके नहीं रोक सकते हैं। क्रिस्फोटर ने बताया कि प्रिंसटन यूनि‌वर्सिटी अमेरिका के आठ ईव लीग एजुकेशनल संस्‍थानों में से एक है। प्रिंसटन यूनिवर्सिटी से 41 नोबेल पुरस्कार विजेता पढ़ाई कर चुके हैं। पिछले साल अर्थशास्‍त्री ऑग्स डीटन और भौतिकशास्त्री ऑर्थर मैकडोनॉल्ड ने नोबेल पुरस्कार जीता है।

और पढ़े -   1969 के बाद पहली बार मस्जिदुल अक्सा में नमाज़े जुमा न हो पाई

आपको बताते चले कि पिछले महीने अमेरिका के राजनायिक रिचर्ड वर्मा ने ‘फ्री स्पीच’ का समर्थन किया था। उन्होंने कहा था कि ‘फ्री स्पीच’ भारत और अमेरिका के लोकतंत्र में एक हॉलमार्क की तरह है। पर बाद में लोकसभा में वैंकेया नायडू ने बिना किसी का नाम लिए कहा था ‌कि अगर अमेरिकी की किसी यूनिवर्सिटी में अगर ओसामा बिन लादेन का शहादत दिवस मनाया जाए तो अमेरिका क्या इसे बर्दाश्त करेगा।

और पढ़े -   पाकिस्तान: डॉ ताहिर उल क़ादरी और इमरान खान की संपत्ति को ज़ब्त करने के आदेश

वैंकेया नायडू के इस बयान पर टिप्पणी करते हुए क्रिस्टोफर ने कहा कि ‘अगर हमारी यूनिवर्सिटी में ऐसा आयोजन होता तो ऐसे आयोजन की अनुमति देते और ऐसा आयोजन करने वाले छात्रों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करते। (अमर उजाला)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE