atul-ji-1-new_1478317279

दुबई में पहली बार स्पेशल वीमेन गार्ड फाॅर्स का गठन किया गया हैं. इस फाॅर्स के गठन के पीछे VIP महिलाओं की सुरक्षा महिलाओं के जरिये सुनिश्चित करना हैं.

इस फाॅर्स की एक यूनिट में 18 महिलाओं को नियुक्त किया गया हैं. इनका काम रॉयल फैमिली की महिला सदस्यों, विदेशी महिला मेहमानों, बिजनेस वीमेन की सुरक्षा करना हैं. इसके लिए इन्हें हर मुश्किल परिस्थिति में हालात पर नियंत्रण पाने की ट्रेनिंग दी गई हैं.

और पढ़े -   ईरान ने रोहिंग्या मुसलमानों के लिये भेजा 40 टन खाद्य सामग्री

इतिहास में पहली बार महिलाओं को सुरक्षा का जिम्मा सौंपा गया हैं. इससे पहले स्पेशल यूनिट्स में भी सिर्फ पुरुष ही होते थे. वुमन स्पेशल यूनिट को बंधक और किडनैपिंग से लोगों को छुड़ाना तक की ट्रेनिंग दी गई है. महिला यूनिट को खास हथियार चलाने और मार्शल आर्ट्स में भी ट्रेन्ड किया गया है. वे चलती कार से कूदना और ऊंची इमारतों से उतरना भी जानती हैं. उन्हें करीब एक साल तक कड़ी ट्रेनिंग दी गई है.

और पढ़े -   बांग्‍लादेश ने भारत को चेताया - नहीं रुका रोहिंग्याओं का पलायन तो पुरे क्षेत्र में पैदा होगा खतरा

इस बारे में वुमेन स्पेशल यूनिट में शामिल ईमान सलेम कहती हैं, ‘इस नए काम से मुझे किसी भी मुश्किल हालात को संभालने का विश्वास मिला है। मैं रोजाना अपने काम से ज्यादा नजदीकी महसूस करती हूं और ज्यादा समर्पण के साथ अपनी ड्यूटी करती हूं.

वहीँ आयशा उबैद के मुताबिक, ‘कठिन ट्रेनिंग और काम ने मुझे अपने डर पर जीत पाने में मदद की है. मैंने मुश्किलों का मुकाबला करने की कला सीख ली है. लोग अंदाजा भी नहीं लगा सकते कि हमारी ट्रेनिंग किस लेवल की होती है.

और पढ़े -   रोहिंग्या मुस्लिमों का नरसंहार को रोक सकता है सिर्फ ये शख्स

 


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE