काबुल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कल सवा तीन बजे (12 फरवरी) अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी को ट्विटर पर जन्मदिन की बधाई दी थी। पीएम ने लिखा था, ‘जन्मदिन मुबारक को अशरफ गनी। आपकी लंबी उम्र, अच्छी सेहत और आनंदमय जीवन की कामना करता हूं।’ लेकिन उसी दिन अशरफ गनी ने साढ़े 10 बजे रात में इस ट्वीट के रिप्लाई में कहा, ‘शुक्रिया मिस्टर पीएम। हालांकि मेरा जन्मदिन 19 मई को है लेकिन फिर भी आपकी शुभकामना के लिए बहुत शुक्रिया।’

और पढ़े -   क़तर का बड़ा फैसला - विदेशियों को बिना वीजा के साठ दिनों तक रहने की दी आजादी

Screenshot_46

आखिर पीएम मोदी से यह गलती कैसे हो गई? अशरफ गनी के बताने के बाद भी कि उनका जन्मदिन 12 फरवरी को नहीं है, पीएम मोदी के ट्विटर हैंडल से ट्वीट डिलीट नहीं किया गया है। क्या ऐसा गूगल पर भरोसे के कारण हुआ। यदि आप गूगल में जाकर अशरफ गनी के जन्मदिन को सर्च करेंगे तो उनका जन्मदिन 12 फरवरी को ही है। इस हिसाब से मोदी सही हैं। (नवभारत टाइम्स)

और पढ़े -   2016 में गौरक्षा के नाम पर बढ़ी है मुस्लिमों पर हिंसा: अमेरिकी विदेशमंत्री

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE