hamid kar

अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई ने कहा कि भारत अफगानिस्तान के बुनियादी ढांचे और चिकित्सा सुविधाओं के निर्माण में सहायता प्रदान कर रहा है और अफगानिस्तान को आर्थिक सहायता दे रहा है। उन्होंने कहा कि भारत अफगानिस्तान को अच्छा दोस्त बनाना चाहता है। लेकिन पाकिस्तान अफगानिस्तान और भारत के बीच अच्छे संबंध नहीं चाहता और उसकी इच्छा है कि दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार न हो और भारत मध्य एशिया तक न पहुंच सके किंतु यह अफगानिस्तान के लिए अस्वीकारीय है।

पूर्व राष्ट्रपति ने पाकिस्तान को नसीहत देते हुए कहा कि पाकिस्तान को चाहिए कि वह ईरान, भारत और अफगानिस्तान के क्षेत्रीय गठबंधन का हिस्सा बन जाए और हमें भारत से दोस्ती खत्म करने का आदेश न दे क्योंकि हम भारत से दोस्ती से पीछे नहीं हट सकते।

उन्होंने अफगानिस्तान और पाकिस्तान के बीच तनाव को खत्म करने के लिए दो सूत्रीय समाधान पेश करते हुए कहा कि दोनों देशों को मिलकर आतंकवाद का मुकाबला और इसके उन्मूलन के लिए गंभीर प्रयास करने चाहिए जिससे दोनों देशों में शांति होगी। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान यह स्वीकार कर ले कि कि अफगानिस्तान स्वतंत्र देश है और उसका सम्मान करे।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें