न्यूयॉर्क। यहां दो अमेरिकी यूनिवर्सिटियों के छात्र देशद्रोह और आपराधिक षड्यंत्र रचने के आरोप में गिरफ्तार किए गए जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के छात्रों के प्रति समर्थन दिखाने के लिए एकत्रित हुए। समाचारपत्र ‘वाशिंगटन स्क्वायर’ की सोमवार की रिपोर्ट के अनुसार, न्यूयॉर्क की न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी (एनवाईयू) और कूपर यूनियन कॉलेज के छात्र जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार और अन्य छात्रों के प्रति अपना समर्थन दिखाने के लिए वाशिंगटन स्क्वायर पार्क में इकट्ठा हुए। रैली में भारतीय-अमेरिका विद्यार्थी भी शामिल थे।

और पढ़े -   श्रीलंका ने दिया चीन को बड़ा झटका, हमारे बंदरगाह का सैन्य इस्तेमाल नहीं करने देंगे

जेएनयू के छात्रों के समर्थन में आए अमेरिकी छात्र

रैली के दौरान एक भारतीय-अमेरिकी छात्रा ने कहा कि इस आयोजन का मुख्य उद्देश्य कन्हैया की गिरफ्तारी के बारे में जागरूकता लाना है। अंजना श्रीधर ने कहा कि कन्हैया को सरकार के खिलाफ बयानबाजी करने की वजह से गिरफ्तार किया गया। हालांकि, उन्होंने वास्तव में सरकार के खिलाफ कुछ नहीं बोला था। वह सिर्फ कविता पढ़ रहे थे।

न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी की एक छात्र कार्यकर्ता सुमति कुमार ने कहा कि वह जेएनयू के विद्यार्थियों के प्रति एकजुटता दिखाने के लिए रैली में शामिल हुई हैं। आरोप है कि जेएनयू के आरोपी छात्रों के साथ मारपीट की गई और उसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। मानव विज्ञान की प्रोफेसर तेजस्विनी घांटी ने कहा कि उन्हें खुशी है कि विद्यार्थियों ने जेएनयू के विद्यार्थियों के समर्थन में आवाज उठाई। उन्होंने कहा कि यूनिवर्सिटियों को सभी विचारों का एक खुला मंच होना चाहिए। (ibnlive)

और पढ़े -   क़तर संकट हल करने के लिए एर्दोगान की सऊदी अरब के बाद कुवैत की यात्रा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE