क़तर संकट को लेकर अमेंरीका, ब्रिटेन और कुवैत का सयुंक्त बयान आया है. जिसमे कहा गया कि इस समस्या का समाधान बातचीत के जरिए किया जाए.

यह बयान अमेंरीका के विदेशमंत्री रेक्स टिलरसन और ब्रिटेन की राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के सलाहकार मार्क सेडवेल कुवैत के दौरे के दौरान आया है. ये दोनों क़तर संकट से उपजे तनाव के समाधान के लिए कुवैत पहुंचे है. दरअसल कुवैत इस मामलें में मध्यस्थ है.

और पढ़े -   देखे वीडियो: 500 सालों में पहली बार स्पेन के अलहंब्रा पैलेस में गूंजी अजान की आवाज

टिलरसन और सेडवेल ने कुवैत के प्रधानमंत्री शैख़ सबाह ख़ालिद अलअहमद स्सबाह के साथ वार्ता में क्षेत्र में जारी संकट पर चिंता व्यक्त की है.

गौरतलब रहें कि सऊदी अरब, संयुक्त अरब इमारात, मिस्र और बहरैन ने 5 जून 2017 को क़तर के ख़िलाफ़ लगाए गए प्रतिबंधों को हटाने के लिए 13 शर्तें रखी थीं. जिससे मानने से क़तर ने इनकार कर दिया. जिसके बाद ये संकट और गहरा गया.

और पढ़े -   रोहिंग्या हिंसा पर दलाई लामा ने सु को लिखा पत्र, दिया, बुद्ध का हवाला देकर हिंसा रोकने की मांग की

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE