क़तर संकट को लेकर अमेंरीका, ब्रिटेन और कुवैत का सयुंक्त बयान आया है. जिसमे कहा गया कि इस समस्या का समाधान बातचीत के जरिए किया जाए.

यह बयान अमेंरीका के विदेशमंत्री रेक्स टिलरसन और ब्रिटेन की राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के सलाहकार मार्क सेडवेल कुवैत के दौरे के दौरान आया है. ये दोनों क़तर संकट से उपजे तनाव के समाधान के लिए कुवैत पहुंचे है. दरअसल कुवैत इस मामलें में मध्यस्थ है.

और पढ़े -   मुस्लिम महिला का हिजाब हटाना पड़ा महंगा, देना पड़ा पुलिस को 54 लाख रु का हर्जाना

टिलरसन और सेडवेल ने कुवैत के प्रधानमंत्री शैख़ सबाह ख़ालिद अलअहमद स्सबाह के साथ वार्ता में क्षेत्र में जारी संकट पर चिंता व्यक्त की है.

गौरतलब रहें कि सऊदी अरब, संयुक्त अरब इमारात, मिस्र और बहरैन ने 5 जून 2017 को क़तर के ख़िलाफ़ लगाए गए प्रतिबंधों को हटाने के लिए 13 शर्तें रखी थीं. जिससे मानने से क़तर ने इनकार कर दिया. जिसके बाद ये संकट और गहरा गया.

और पढ़े -   डोकलाम विवाद से उपजे तनाव के लिए चीन ने ठहराया पीएम मोदी को जिम्मेदार: चीन

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE