अमेरिका द्वारा हाल ही में ईरान के खिलाफ नए प्रतिबंधो की ईरान ने आलोचना की है.  ईरान के विदेश मंत्री मोहम्मद जावेद जारिफ ने कहा है कि अमेरिका द्वारा लगाए गए ये प्रतिबंध 2015 में किए गए परमाणु समझौते का उल्लंघन हैं.

जारिफ ने कहा, ‘यह समझौते की भावना का उल्लंघन है. हम देखेंगे कि क्या यह समझौता पत्र का उल्लंघन है और फिर हम उसके अनुसार र्कारवाई करेंगे.’ जारिफ ने कहा कि अमेरिका नए प्रतिबंधों से ‘अंतर्राष्ट्रीय माहौल खराब’ करने की कोशिश कर रहा है.

और पढ़े -   स्पेन की अदालत ने इजरायल प्रधानमंत्री के खिलाफ जारी किया गिरफ्तारी का आदेश

उन्होंने कहा कि मध्यपूर्व में आतंकवाद का समर्थन करने वाले देशों पर प्रतिबंध लगाने के स्थान पर ट्रंप लगातार कह रहे हैं कि परमाणु समझौता एक बुरा करार है.

गौरतलब रहें कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ईरान के बैलिस्टिक मिसाइल कार्यक्रम को लेकर देश पर नए आर्थिक प्रतिबंध लगाने की घोषणा की हैं.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE