दो दिवसीय सऊदी अरब की यात्रा से फारिग होकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प सीधे इजराइल की यात्रा पर पहुंचे है.  जहां गुरियन हवाई अड्डा पर इजराइली राष्ट्रपति रियूवेन रिव्लिन और प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने उनका स्वागत किया

इजराइल पहुँचने के साथ ही ट्रम्प के खिलाफ फ़िलिस्तीनियों ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया. दरअसल, रविवार को रियाज़ सम्मेलन में ट्रम्प ने स्लामी प्रतिरोध आंदोलनों को आतंकी करार देते हुए कहा था कि दाइश, हमास और हिज़्बुल्लाह क्षेत्र के लिए आतंकवादी ख़तरा उत्पन्न कर रहे हैं.

और पढ़े -   स्विट्जरलैंड में भारत को बताया गया भ्रष्ट, ब्लैकमनी का डाटा देने का भी हो रहा विरोध

मंगलवार को ट्रम्प की अवैध अधिकृत फ़िलिस्तीन की यात्रा के ख़िलाफ़ ग़ज्ज़ा पट्टी में फ़िलिस्तीनियों ने प्रदर्शन किया और इस्लामी प्रतिरोध को बदमान करने की अमरीकी-इस्राईली साज़िश की निंदा की. प्रदर्शनकारियों का कहना था कि ट्रम्प की यह यात्रा, मध्यपूर्व के लिए एक बड़ी साज़िश के परिप्रेक्ष्य में हो रही है.

वहीँ ट्रम्प ने कहा कि “हमारे सामने एक दुर्लभ अवसर मौजूद है, जिससे इसी क्षेत्र और यहां की जनता के लिए सुरक्षा, स्थिरता और शांति वापिस ला सकेगा, आतंकवाद का खात्मा कर एक सामंजस्यपूर्ण, समृद्ध और शांतिपूर्ण भविष्य की स्थापना कर सकेगा। हमें सहयोग करके इस लक्ष्य को साकार करना है, इसके बजाए कोई दूसरा रास्ता नहीं है.”

और पढ़े -   सऊदी प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान ने कहा - यमन युद्ध से अब निकलना चाहते है बाहर

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE