वाशिंगटन डीसी : कौंसिल ऑफ़ फॉरेन रिलेशन के मुताबिक़ 1 जनवरी 2015 से अब तक कुल 23144 बम अमेरिका ने इराक़, सरिया, अफ़ग़ानिस्तान. यमन और सोमालिया जैसे मुस्लिम मुल्कों के ऊपर गिराए हैं.

us

नोबेल विजेता अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के ऊपर इसकी ज़िम्मेदारी आती है. इस तरह से बम गिराने से मुस्लिम दुनिया को कितना नुक़सान हुआ है इसका अंदाज़ा लगाना भी मुश्किल है. और इस तरह से बम गिराना किस तरह से सही है ?

23144 बमों में से 22110 बम इराक़ और सरिया पर गिराए गए हैं, अफ़ग़ानिस्तान पर 947 बम गिराए गए हैं.

अफ़ग़ानिस्तान पर इतने बम गिराए जाने के बाद भी पिछले दिनों तालिबान मज़बूत हुआ है और 2001 के बाद से वो अब सबसे मज़बूत पोजीशन पे लग रहा है.

ओबामा के कई वादे जो पूरे नहीं हुए उसमें से एक वादा अफ़ग़ानिस्तान से फ़ौज हटाने का भी था लेकिन अक्टूबर में उन्होंने कहा 2017 तक वो फ़ौज जारी रखेंगे.

मुस्लिम मुल्कों के ख़िलाफ़ चलाई जा रही ये फ़ौजी कैंपेन तमाम लोगों की मौत का सबब बनी है. (siasat)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें