संयुक्त राष्ट्र। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने हाइड्रोजन बम परीक्षण के चलते उत्तर कोरिया के खिलाफ नई पाबंदी लगाने की चेतावनी दी है। विश्व निकाय ने प्योंगयोंग के इस कदम की कड़ी निंदा करते हुए इसे अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा को स्पष्ट खतरा बताया है। चीन सहित 15 सदस्यीय परिषद ने उत्तर कोरिया द्वारा किए गए परमाणु परीक्षण से बने गंभीर हालात से निपटने के लिए तुरंत मशविरा किया।

और पढ़े -   बांग्‍लादेश ने भारत को चेताया - नहीं रुका रोहिंग्याओं का पलायन तो पुरे क्षेत्र में पैदा होगा खतरा

उत्तर कोरिया के खिलाफ नई पाबंदी की तैयारी में जुटा संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने बुधवार को चौथा परमाणु परीक्षण करने वाले उत्तर कोरिया के खिलाफ आगे और खास तरह की पांबदी लगाने की तैयारियों पर सहमति जता दी। परिषद के सदस्यों ने इससे पहले कहा था कि अगर प्योंगयोंग परमाणु परीक्षण कर संयुक्त राष्ट्र प्रस्ताव का उल्लंघन करेगा तो आगे और बड़ा कदम उठाया जाएगा। संयुक्त राष्ट्र प्रमुख बान की मून ने इसे बेहद परेशान करने वाला और क्षेत्रीय सुरक्षा को पूरी तरह से अस्थिर करने का कदम कहा।

और पढ़े -   रोहिंग्या मुस्लिमों का नरसंहार को रोक सकता है सिर्फ ये शख्स

वाशिंगटन से मिली खबर के मुताबिक, अमेरिका ने सफलतापूर्वक हाइड्रोजन बम परीक्षण के उत्तर कोरिया के दावे पर संदेह प्रकट करते हुए उल्लेख किया कि शुरूआती आकलन से सबूत प्योंगयोंग के दावों की पुष्टि नहीं करते। व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव जोश अर्नेस्ट ने कहा कि शुरूआती विश्लेषण उत्तर कोरिया के हाइड्रोजन बम विस्फोट के उत्तर कोरिया के दावे से मेल नहीं खाता। गौरतलब है कि उत्तर कोरिया के सरकारी टेलीविजन ने कहा था कि गणराज्य का पहला हाइड्रोजन बम परीक्षण दिन में 10 बजे (अंतरराष्ट्रीय समयानुसार डेढ़ बजे) सफलतापूर्वक अंजाम दिया गया। साभार: ibnlive

और पढ़े -   ओआईसी का कुर्दों से जनमत संग्रह को रद्द करने का आग्रह, कहा - क्षेत्र होगा अस्थिर

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE