uni

संयुक्‍त राष्‍ट्र ने पाकिस्‍तान अधिकृत कश्‍मीर (पीओके) और जम्मू-कश्मीर में कथित मानवाधिकार उल्लंघनों को लेकर चिंता जाहिर करते हुए भारत और पाकिस्तान से इन दोनों जगहों पर अपनी एक टीम को जाने देने की मंजूरी देने की अपील की है.

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायोग जेद राद अल हुसैन ने बुधवार (16 अगस्त) को भारत और पाकिस्तान से उनकी टीम को जम्मू कश्मीर तथा पाक के कब्जे वाले कश्मीर में जाने की अनुमति देने की अपील की थी.

और पढ़े -   फिलिस्तीन का साथ देने पर सऊदी और उसके घटक देश दे रहे क़तर को सज़ा

अल हुसैन ने कहा, ‘मुझे दुख है इससे पहले हमारी अपील मंजूर नहीं की गई है. हम फिर मानवाधिकार उल्लंघन की स्वतंत्र और गहरी जांच करने के लिए जम्मू-कश्मीर और पीओके में जाने की मांग करते हैं.;’ हुसैन ने कहा, ‘मानवाधिकार ऑफिस चाहता है कि उसकी टीम जमीनी स्तर पर कश्मीर में पीड़ितों, गवाहों, सुरक्षाबलों से इंटरव्यू करे और स्वतंत्र रूप से स्थिति का आकलन करे.

और पढ़े -   नेपाल सरकार ने पतंजलि के 7 प्रोडक्‍ट पर लगाया बैन, क्वालिटी टेस्ट में हो गए फ़ैल

पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने एक बयान में कहा कि वह संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार विशेषज्ञों की टीम का स्वागत करेगा. विदेश कार्यालय ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग पीओके में जिस संरा दल को भेजने का इच्छुक है, हम उसका स्वागत करते हैं लेकिन हम कश्मीर में ‘मानवाधिकारों के घोर उल्लंघनों की तुलना’ पीओके के साथ करने को स्वीकार नहीं करते.

और पढ़े -   एशिया में अमरीकी अपराध, फिलिपीन्स के सेक्स व्यापार में अमरीकी हिस्सेदारी

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE