भारत में असहिष्णुता का मुद्दा पिछले दिनों काफ़ी सुर्खियों में रहा। आमिर ख़ान के बयान से लेकर साहित्यकारों की अवॉर्ड वापसी तक सभी ने माहौल को गर्माए रखा। भारत में बेशक ये बहस का विषय रहा हो लेकिन तेल संपन्न देश संयुक्त अरब अमीरात ने इसी दिशा में एक अहम कदम उठाया है। यूएई की सरकार ने अपने कैबिनेट में एक बड़ा बदलाव करते हुए सहिष्णुता और खुशी के नाम से नए मंत्रालय बनाया है।

इस बात की घोषणा यूएई के प्रधानमंत्री और शासक सुल्‍तान शेख मोहम्‍मद बिन राशिद अल मकतूम ने खुद ट्विटर पर की। सुल्‍तान ने कहा कि सरकार ने इस बदलाव के तहत ही कई मं‍त्रियों को नए पदभार दिए हैं, ताकि सेवाओं को आम जनता तक जल्‍द से जल्‍द पहुंचाया जा सके।

बताया जा रहा है कि एक नए विभाग के लिए एक 22 वर्षीय महिला को चुना गया है। हालांकि, उसका नाम अभी नहीं बताया गया है। इस विभाग का मकसद इस तरह की नीतियां बनाना होगा जिसके जरिए देश और समाज में खुशी और शांति रहे। यूएई के इन दोनों विभागों के बारे में दुनिया भर में चर्चा हो रही है।

हालांकि, नई सरकार में कम मंत्री होंगे, लेकिन सबको अपना प्रभावी योगदान देना होगा। सरकार ने यूएई के समाज में मूलभूत अधिकारों की रक्षा के लिए एक सहिष्‍णु विभाग बनाया है। इसके अलावा मिनिस्‍टर फॉर हैप्‍पीनेस नाम के एक नए मंत्रालय का गठन किया गया है। (NEWS24)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें