ard

तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब अर्दोग़ान नाराज होकर विश्व विख्यात बाॅक्सर मुहम्मद अली के अंतिम संस्कार को छोड़कर अचानक अमेरिका से तुर्की रवाना हो गए थे. उनकी इस नाराजगी की दो वजह सामने आई हैं. अर्दोग़ान विशेष विमान से तुर्की के कुछ उच्चाधिकारियो के साथ अमरीका के केंटकी राज्य में मुहम्मद अली क्ले के अंतिम संस्कार में शामिल होने आये थें.

प्राप्त जानकारी के अनुसार अर्दोग़ान काबा शरीफ के ग़िलाफ़ का एक हिस्सा अली के ताबूत पर लगाना चाहते थे, साथ ही तुर्की की दियानत संस्था के प्रमुख मुहम्मद गोरमेज़ अली के अंतिम संस्कार में क़ुरआने मजीद की तिलावत करना चाहते थे लेकिन उन्हें इसकी अनुमति नहीं दी गई जिससे तुर्की राष्ट्रपति नाराज़ हो गए।

और पढ़े -   ओआईसी प्रमुख ने रमजान में इस्लामिक उम्माह को गरीब शरणार्थियों की मदद का आग्रह किया

इसके अलावा अर्दोग़ान के अमरीका रवाना होने से पहले ही मुहम्मद अली क्ले के परिवार के प्रवक्ता बाॅब गोनल ने स्पष्ट कर दिया था कि विश्व विख्यात बाॅक्सर के अंतिम संस्कार में तुर्की के राष्ट्रपति और जाॅर्डन नरेश के भाषण का कोई कार्यक्रम नहीं है।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE