तुर्की ने गत वर्ष हुए असफल सैन्य तख्तापलट के प्रयासों में शामिल होने के आरोप में लगभग सात हज़ार से ज्यादा पुलिस, मंत्रालयों के कर्मचारियों और शिक्षाकर्मियों को बर्खास्त कर दिया है।

कर्मचारियों को बर्खास्त करने का आदेश पांच जून का है जिसे शुक्रवार को सरकारी गजट में प्रकाशित किया गया।तख्तापलट की कोशिशों के बाद से तुर्की ने पहले ही डेढ़ लाख अधिकारियों को बर्खास्त कर दिया है और 50 हजार से अधिक लोगों को सेना, पुलिस और दूसरे क्षेत्रों से गिरफ्तार किया है।

और पढ़े -   तुर्की सीरियाई हाजियों की मदद के लिए आगे आया

राष्ट्रपति एर्दोगन का कहना है कि देश की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यह आवश्यक कदम उठाए गए हैं। याद रहे उन्होंने इस तख्तापलट की कोशिशों के लिए मुस्लिम धर्मगुरु फतेउल्लाह गुलेन पर आरोप लगाया है। हालांकि, अमेरिका में रहने वाले गुलेन ने उस तख्तापलट में किसी भी भूमिका से इनकार किया। अमेरिका ने गुलेन के प्रत्यर्पण की तुर्की की मांग पर चुप्पी साध रखी है।

और पढ़े -   इराक आया मुस्लिम ब्रदरहुड के समर्थन में कतर का भी किया बचाव

गौरतलब है कि 16 जुलाई 2016 को हुई उस हिंसा में 250 से ज्यादा लोग मारे गए थे। बर्खास्त किए गए लोगों में 2,303 पुलिस अधिकारी, 302 यूनिवर्सिटी शिक्षक, 342 सेवानिवृत्त कर्मचारी और सैनिक शामिल हैं


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE