ardg

तुर्की ने कश्मीर में वास्तविक हालात को जानने के लिए एक प्रतिनिधिमंडल भेजने का फैसला किया हैं. ये बात तुर्की के राष्ट्रपति रिसेप तईप एरडोगन ने न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा के सत्र में  के मौके पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के साथ एक बैठक के दौरान कही है।

तुर्की के राष्ट्रपति का ये फैसला पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ द्वारा कश्मीर में कथित मानवाधिकार के उल्लंघन का मुद्दा उठाये जाने के बाद आया हैं. इस दौरान पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने तुर्की के राष्ट्रपति से कश्मीर के मसले पर सहयोग भी माँगा.

इस बैठक में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज और विशेष सहायक तारिक फातेमी सहित तुर्की के विदेश मंत्री और अन्य अधिकारियों ने भी हिस्सा लिया.

बैठक में एरडोगन ने कहा है कि तुर्की और पाकिस्तान हमेशा से दोस्त रहे हैं और मुस्लिम दुनिया में शांति लाने में मजबूत और दृढ़ भागीदारी निभाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें