ardg

तुर्की के राष्ट्रपति रजब तय्यिप एरदोगन ने पश्चिमी देशों के दोहरे मापदंडो पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि  पश्चिमी देशों को अपने काम से काम रखे.

एरदोगन ने कहा कि पश्चिमी देशों में कोई आतंकी हमला होता है और पांच-सात लोग भी मर जाते हैं तो ये वेस्टर्न देश पूरी दुनिया सर पे उठालेते हैं और आग सी लगाने की बात करते हैं लेकिन जब तुर्की में तख्ता पलट की कोशिश की गयी तो ये बजाय तुर्की की संवैधानिक संस्थाओं के प्रति सहानुभूति दिखाने के उन लोगों के साथ दिखाई पड़ रहे हैं जो असल में सरकार गिराने आये थे. उन्होंने आगे कहा कि कहा कि वो 52% आम वोट के साथ चुनाव जीत के आये हैं और इस बात का सम्मान होना चाहिए.

और पढ़े -   बांग्‍लादेश ने भारत को चेताया - नहीं रुका रोहिंग्याओं का पलायन तो पुरे क्षेत्र में पैदा होगा खतरा

अर्दोआन सेना के एक आला जनरल जोसेफ वोटल के बयान की आलोचना की और उन पर ‘तख़्तापलट की साज़िश रचने वालों का पक्ष लेने’ का आरोप लगाया है. राष्ट्रपति अर्दोआन ने कहा, “फ़ैसला लेना आपका काम नहीं है. आप कौन हैं? अपनी हैसियत को पहचानिए! आप तख़्तापलट की साज़िश को नाकाम करने के लिए इस देश का शुक्रिया अदा करने के बजाए तख़्तापलट की साज़िश रचने वालों का पक्ष ले रहे हैं.”

और पढ़े -   रोहिंग्या संकट को लेकर म्यांमार में भेजी जा सकती है सेना, ईरान और पाक सैन्य प्रमुख में हुई बातचीत

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE