kahar

तुर्की ने कश्मीर के मुद्दे पर पाक को दिए अपना पारंपरिक एवं मजबूत समर्थन दोहराते हुए कहा कि तुर्की को कश्मीर के विवाद पर चिंता है जिससे पूरे क्षेत्र की शांति व स्थिरता पर प्रभाव पड़ रहा है.

तुर्की ने इस मुद्दे को शांतिपूर्ण तरीके से सुलझाने और ‘संयम’ बरतने पर जोर दिया है. पाक विदेश मंत्रालय ने कहा, ‘तुर्की ने जम्मू-कश्मीर की जनता के मुद्दे के प्रति अपने पारंपरिक एवं मजबूत समर्थन को फिर से दोहराया है.

विदेश मंत्रालय से जारी होने वाले बयान के अनुसार पाकिस्तान के इन विशेष प्रतिनिधियों ने तुर्क अधिकारियों को कश्मीर की ज़मीनी स्थिति और मानवाधिकारों के हनन से अवगत कराया. पाकिस्तानी दूतों ने तुर्क के संसद सभापति इसमाईल क़हरमान से बातचीत में बताया कि निहत्थे कश्मीरियों पर किस तरह अत्याचार हो रहा है.

विशेष दूतों ने ‘तुर्किश ग्रैंड नेशनल असेंबली’ के स्पीकर इस्माइल खरामन से मुलाकात कर बताया कि युवा कश्मीरी नेता बुरहान वानी की मौत के बाद जम्मू व कश्मीर में नए सिरे से बहुत बड़े पैमाने पर जनांदोलन शुरू हो गया है.

सभापति इसमाईल क़हरमान ने कहा कि उनका देश आतंकवाद के विरुद्ध पाकिस्तान युद्ध का समर्थन करता है। उन्होंने कहा कि तुर्की और पाकिस्तान ने हमेशा राष्ट्रीय हितों के मामलों में एक दूसरे का साथ दिया है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें