तुर्की की राजधानी अंकारा में सैन्य तख्तापलट की कोशिश के दौरान रातभर हुए संघर्षों में 6० लोगों की मौत की खबर हैं. हालांकि इस्तांबुल में बॉसपोरस पुल को क़ब्ज़े में लिए सैनिकों की टुकड़ी ने आत्मसमर्पण कर दिया है. ये लोग सेना के उस समूह का हिस्सा थे जिसने मुल्क में तख़्तापलट की कोशिश की थी.

तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तईप एरदोगन ने शनिवार को इस्तांबुल के अतातुर्क हवाईअड्डे पर उतरने के बाद कहा कि वह तुर्की के मनमारिस के जिस रिजॉर्ट में रूके थे. उनके रिसॉर्ट छोड़ने के बाद वहां बम से हमला किया गया. प्रधानमंत्री बिनाली युल्दरम ने कहा है कि हालात क़ाबू में हैं और अबतक 130 लोगों को गिरफ़्तार किया गया है. उन्होंने आगे कहा है कि वो तख़्तापलट करने वाले गिरोह के ज़रिये इस्तेमाल किए जानेवाले विमानों को मार गिराएं.

और पढ़े -   अमेरिका ने जारी हिंसा के बीच दी रोहिंग्‍या मुस्लिमों के लिए 3.2 अरब डॉलर की मदद

राष्ट्रपति रैचेप तैयप एर्दोआन ने इस्तांबुल में कहा है तख़्तापलट के प्रयास को ‘देशद्रोह’ क़रार दिया है. साथ ही उन्होंने देश में चल रहे तख्तापलट के प्रयासों के लिए तुर्की के इस्लामिक धर्मप्रचारक फेतुल्लाह गुलेन को जिम्मेदार ठहराया. एरदोगन ने पार्टी के महासचिव के अपहरण का खुलासा करते हुए विद्रोहियों से पूछा ‘‘तुम लोग महासचिव के साथ क्या करने वाले हो?’’ पार्टी के महासचिव के अलावा सेना प्रमुख इस समय कहां है ये मालूम नहीं है. उन्हें सत्तापलट की कोशिश करने वाले सेना के एक समूह ने शुक्रवार रात को बंधक बना लिया था.

और पढ़े -   ओआईसी का कुर्दों से जनमत संग्रह को रद्द करने का आग्रह, कहा - क्षेत्र होगा अस्थिर

समाचार एजेंसी एपी ने स्पीकर इसमाइल काहरमान के हवाले से कहा है कि संसद के एक हिस्से में एक बम धमाका हुआ है, जिसमें कुछ पुलिसवाले घायल हुए हैं. ‘सीएनएन’ के मुताबिक, इस्तांबुल के अतातुर्क हवाईअड्डे को दोबारा खोल दिया गया है और समाचार चैनलों ने भी दोबारा प्रसारण शुरू कर दिया है.

राष्ट्रपति रैचेप तैयप एर्दोआन ने प्रेस कांफ्रेस में कहा कि सेना में बदलाव लाए जाएंगे और तख़्तापलट की कोशिश करने वाले सफ़ल नहीं हों पाएंगें.

और पढ़े -   कैलाश सत्यार्थी ने की रोहिंग्या जनसंहार पर सू ची की चुप्पी को बताया "अस्वीकार्य"

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE