तुर्की के राष्ट्रपति तैयब अर्दोगन इस समय क़तर की यात्रा पर है. इस दौरान दोनों देशों के बीच कई महत्वपूर्ण समझौते हुए जिनमे से प्रमुख समझौता दोहा में सैन्य छावनी बनाने को लेकर हुआ है. इस सैन्य छावनी में सैकड़ों तुर्क सैनिक रहेंगे.

दोनों देशो के बीच इस पर आधिकारिक रूप से सहमति बन गई है. यह सहमति तुर्की के अधिकारियों की फ़ार्स की खाड़ी के देशों की यात्राओं के बाद बनी है.  तुर्की और क़तर का कहना है कि इस संयुक्त सैनिक छावनी का बनाया जाना दोनो देशों और क्षेत्र के लिए विशेष महत्व रखता है.

और पढ़े -   रियाद में जी-20 बैठक के आयोजन के विरोध में आया फ्रांस

तुर्की विदेश मंत्रालय की और से जारी बयान में कहा गया कि तुर्की और क़तर में इस बात पर सहमति बनी है दोहा में एक संयुक्त सैन्य छावनी बनाई जाएगी जिसमें सैकड़ों तुर्क सैनिक रहेंगे.

उल्लेखनीय है कि तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब अर्दोग़ान ने एक बहुत बड़े आर्थिक, कूटनीतिक और सैनिक शिष्टमण्डल के साथ क़तर पहुंचे थे जहां पर यह समझौता हुआ

और पढ़े -   चीन ने भारत के लिए बना सिरदर्द - अब चीनी सेना बना रही लद्दाख में पुल

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE