nety

अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने चुनाव प्रचार के दौरान ही बैतुल मुक़द्दस को लेकर अपने इरादे पहले ही जाहिर कर दिए थे. ट्रम्प बैतूल मुक़द्दस को इजराइल की राजधानी घोषित करने के लिए चुनाव से पूर्व इजराइल को पहले ही वादा कर चुके थे.

ऐसे में उन्होंने चुनाव के बाद अब इस और कदम उठाते हुए अमेरिकी दूतावास को तेल अवीव से बैतुल मुक़द्दस स्थानांतरित करने का फैसला किया हैं. हालांकि इस फैसले की आलोचना करते हुए सयुंक्त राष्ट्र ने कड़ी चेतावनी दी हैं. और इसे अंतर्राष्ट्रीय क़ानूनों का उल्लंघन बताया हैं.

रियाज़ मंसूर ने डोनल्ड ट्रम्प द्वारा अमरीका का दूतावास बैतुल मुक़द्दस स्थानांतरित करने के बारे मेंकहा है कि यह क़दम संयुक्त राष्ट्र संघ की सुरक्षा परिषद और महासभा के प्रस्ताव का उल्लंघन और फ़िलिस्तीनी राष्ट्र से अमरीका की खुली दुश्मनी होगा. साथ ही उन्होंने कहा, इस्राईल द्वारा नस्लभेदी दीवार के निर्माण पर हेग के अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय के प्रस्ताव सहित सभी संभव विकल्पों पर काम किया जाएगा.

गौरतलब रहें कि डोनल्ड ट्रम्प ने चुनाव पूर्व इजराइल प्रधानमंत्री बेनयामिन नेतनयाहू से मुलाक़ात कर वादा किया था कि अगर वे अमरीका के राष्ट्रपति बने तो अमरीका के दूतावास को तेल अवीव से बैतुल मुक़द्दस स्थानांतरित कर देंगे.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें