अमरीकी बुद्धिजीवी और प्रसिद्ध विचारक नोआम चामस्की ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को अमेरिका के लिए विनाशक करार दिया हैं. उन्होंने कहा कि ट्रम्प परमाणु भंडारों का पुनर्निमाण करना चाहते हैं. उनकी ये नीति अमेरिका के लिए विनाशकारी साबित होगी.

उन्होंने अमरीका की डेमोक्रेटिक पार्टी की आलोचना करते हुए कहा कि इस पार्टी ने कर्मियों के अधिकारों पर ध्यान देने के बजाए, अपना पूरा ध्यान अमरीकी चुनाव प्रक्रिया में रूस के संभावित हस्तक्षेप पर केन्द्रित कर रखा है. उन्होंने कहा कि वाशिंग्टन के अधिकारियों ने हालिया वर्षों में बहुत से देशों के चुनावों में हस्तक्षेप करके कुछ सरकारों को गिरा भी दिया है.

और पढ़े -   कठिन परिस्थितियों में भी नहीं छोड़ा फिलिस्तीन का साथ, मुसलमानों में फैलाए जा रहे मतभेद: सीरिया

चामस्की ने अमेरिकी मीडिया की आलोचना करते हुए कहा कि अफ़ग़ानिस्तान में अमरीकी सैन्य हस्तक्षेप और वाशिंग्टन द्वारा यमन पर सऊदी अरब के सैन्य हमले के हस्तक्षेप के कारण इन देशों में मानवीय संकट बढ़ गया है किन्तु अमरीकी मीडिया ने इस विषय को कवरेज ही नहीं दिया. उन्होंने यह भी कहा कि यमन में बढ़ते मानवीय संकट का मुख्य कारण वाशिंग्टन और सऊदी अरब का सैन्य हस्तक्षेप है.

और पढ़े -   सऊदी और क़तर के प्रतिनिधियों के बीच जमकर हुई जूतम-पैजार

गौरतलब है कि नोआम चामस्की जेनेरेटिव ग्रामर सिद्धांत के प्रतिपादक और बीसवीं सदी के भाषाविज्ञान में सबसे बड़े योगदानकर्ताओं में से एक बुद्धिजीवी हैं.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE