trumph

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रम्प ने अमेरिका में मुस्लिमों के प्रतिबंध वाले विवादास्पद बयान को वापस ले लिया हैं.

डोनाल्ड ट्रम्प के प्रवक्ता हॉप हुकस ने एक कार्यक्रम में कहा कि ट्रम्प सभी मुसलमानों के खिलाफ नहीं हैं बल्कि उन मुसलमानों के अमेरिका में प्रवेश के खिलाफ हैं जो आतंकवाद वाले देशों से सबंधित हैं.

उन्होंने बताया कि डोनाल्ड ट्रम्प ने बीयान दिया कि वह उन देशों से भी मुसलमानों को अमेरिका आने की अनुमति देने पर गौर करेंगे जहां आतंकवादी गतिविधियां जारी हैं लेकिन उन लोगों को जांच की सख्त प्रक्रिया से गुजरना होगा.

और पढ़े -   एशिया में अमरीकी अपराध, फिलिपीन्स के सेक्स व्यापार में अमरीकी हिस्सेदारी

गोरतलब रहें कि डोनाल्ड ट्रम्प ने 7 दिसंबर 2015 को सैन बरनार्डीनो में हमले के बाद मुसलमानों के अमरिका में प्रवेश पर प्रतिबन्ध लगाने का बयान दिया था. जिसके बाद विश्व भर में ट्रम्प की आलोचना शुरू हो गई थी.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE