trumph

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रम्प ने अमेरिका में मुस्लिमों के प्रतिबंध वाले विवादास्पद बयान को वापस ले लिया हैं.

डोनाल्ड ट्रम्प के प्रवक्ता हॉप हुकस ने एक कार्यक्रम में कहा कि ट्रम्प सभी मुसलमानों के खिलाफ नहीं हैं बल्कि उन मुसलमानों के अमेरिका में प्रवेश के खिलाफ हैं जो आतंकवाद वाले देशों से सबंधित हैं.

उन्होंने बताया कि डोनाल्ड ट्रम्प ने बीयान दिया कि वह उन देशों से भी मुसलमानों को अमेरिका आने की अनुमति देने पर गौर करेंगे जहां आतंकवादी गतिविधियां जारी हैं लेकिन उन लोगों को जांच की सख्त प्रक्रिया से गुजरना होगा.

गोरतलब रहें कि डोनाल्ड ट्रम्प ने 7 दिसंबर 2015 को सैन बरनार्डीनो में हमले के बाद मुसलमानों के अमरिका में प्रवेश पर प्रतिबन्ध लगाने का बयान दिया था. जिसके बाद विश्व भर में ट्रम्प की आलोचना शुरू हो गई थी.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें