lui

लंदन: ओलिंपिक में सिल्वर पदक विजेता लुइस स्मिथ को इस्लाम धर्म का मजाक बनाने और दुनिया भर के मुसलमानों की भावनाएं आहत करने के लिए ब्रिटिश जिमनैस्टिक्स की और से दो महीने के लिए प्रतिबंधित कर दिया. लुईस ओलंपिक में चार बार पदक जीत चुके हैं.

पिछले महीने लीक हुए एक विडियो में लुईस इस्लाम का ‘मजाक बनाते दिखाई दे रहे हैं. जिसमे वे नमाज का मजाक बनाते हुए पहले नमाज अदा करने की एक्टिंग करते हैं और फिर जोर-जोर से अल्लाहु-अकबर चिल्लाते हुए दिखाई देते हैं. साथ ही इस विडियो में उनके साथी ल्यूक कार्सन भी दिखाई दे रहे हैं. जो उनके पीछे अजीब हरकतें कर रहे हैं.

और पढ़े -   मानवाधिकारों के उल्लंघन को लेकर CRPF के पूर्व आईजी को कनाडा ने वापस लौटाया

ब्रिटिश जिमनास्टिक्स के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जेन एलन ने इस बारे में कहा, ऐसा नहीं है कि एक ऐतिहासिक उपलब्धि के बाद, दो हाई प्रोफाइल सदस्यों को एक साथ हमारे संगठन के मानकों और आचरण के उल्लंघन में पाते हैं. जो कि एक अफसोस बात है.

ब्रिटिश जिमनास्टिक्स ने कहा कि स्मिथ के प्रतिबंध आचरण पर अपने नियमों के पिछले उल्लंघन की वजह से एक “संचयी दंड ‘था. हालांकि इस साल रियो में हुए ओलिंपिक गेम्स में स्मिथ ने अपने साथी मैक्स विटलॉक के साथ पॉमल हार्स स्पर्धा में सिल्वर मेडल जीता था. स्मिथ ने अपनी गलती के लिए पहले ही माफी मांग चुके हैं.

और पढ़े -   ट्रम्प की सऊदी अरब की यात्रा का मकसद मध्य पूर्व के लिए नाटो की तरह एक संगठन बनाना

लुइस लंदन की विक्ट्री परेड और पिछले महीने बर्मिंगम पैलेस में ब्रिटिश पदक विजेताओं के लिए हुए सम्मान कार्यक्रम में भाग लेने के बजाय मस्जिद गए थे.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE