हज इस्लाम धर्म की पवित्र यात्रा है, लेकिन हर मुसलमान के नसीब में ये नहीं होती है. दरअसल अपनी गरीबी के कारण बहुत से मुसलमान हज अदा नहीं कर पाते है. ऐसे में भारतीय मूल के एक दक्षिण अफ्रीकी मुस्लिम शख्स ने एक अनोखे तरीके से गरीब मुस्लिमों को हज कराने के लिए पांच करोड़ रुपये जुटाए.

यूसुफ अब्रामजी ने अपने हज के दौरान मोबाइल फोन से ली गई तस्वीरों वाली एक कॉफी टेबल किताब बनाई. उनकी ये किताब लोगों को बहुत पसंद आई. इस किताब को लेने के लिए पुस्तकालयों, स्कूलों और धार्मिक संस्थानों से 500 प्रतियों का आदेश आया.

और पढ़े -   मुस्लिम विरोधी सांसद ने ऑस्ट्रेलियाई संसद में बुर्का पहनकर मचाया हंगामा

इस किताब की प्रतियों की बिक्री से उन्होंने पांच करोड़ रुपए जुटाए. जिसे उन्होंने गुरुवार को यहां दो दक्षिण अफ्रीकी परोपकार संस्थानों को दान कर दिया. अब्रामजी ने कहा कि विचार हज को लेकर जागरूकता पैदा करना था. यह हर मुसलमान के लिए जरूरी है जो अपने जीवन में कम से कम एक बार यह कर सकता है.

उन्होंने कहा कि इससे हज पर जाने वालों की यादें भी ताजा हो गईं. हमें सामाजिक जुड़ाव और धार्मिक सहिष्णुता को बढ़ाने की जरूरत है और किताब ने यही किया.

और पढ़े -   सवा लाख अवैध हाजियों को मक्का से वापस भेजा गया

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE