सऊदी अरब के विदेशमंत्री ने 11 सितंबर की आतंकवादी घटना से संबंधित प्रस्ताव पारित करने के बारे में अमेरिका को चेतावनी दी है।

हमारे संवाददाता की रिपोर्ट के अनुसार आदिल अलजुबैर ने कहा कि अगर अमेरिका ऐसा प्रस्ताव पारित करता है जिसमें यह कहा जाता है कि 11 सितंबर वर्ष 2001 की आतंकवादी घटना में सऊदी अरब का हाथ था तो इससे पूरे विश्व में अमेरिका में पूंजी निवेश करने वालों का विश्वास समाप्त हो जायेगा।

और पढ़े -   चीन-भारत तनाव ईरान पहुंचा, चीनी कंपनी ने सभी भारतीय कर्मचारी को नौकरी से निकाला

समाचार पत्र न्यूयार्क टाइम्ज़ ने भी इससे पहले लिखा था कि रियाज़ सरकार ने धमकी दी थी कि अगर अमेरिकी कांग्रेस इस संबंध में प्रस्ताव को क़ानूनी रूप देती है तो वह 750 अरब डॉलर मूल्य की अमेरिका में अपनी सम्पत्ति को बेच देगी।

11 सितंबर वर्ष 2001 को होने वाले आतंकवादी हमले के बाद अमेरिकी कांग्रेस ने इस संबंध में जांच- पड़ताल के लिए एक समिति का गठन किया था और अंततः 10 वर्षों के बाद उस समिति ने एक रिपोर्ट प्रकाशित की जिसमें सऊदी अरब से संबंधित भाग को अब भी गोपनीय रखा गया है।

और पढ़े -   तुर्की सीरियाई हाजियों की मदद के लिए आगे आया

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE