chin

चीन की सरकार ने देश में रह रहे मुसलमानों से मजबूती से चरमपंथ का विरोध करने के साथ सोशलिज्म से जुड़े रहने की अपील की हैं.  धार्मिक मामलों के राज्य प्रशासन प्रमुख वांग जुओन ने कहा कि चीनी मुसलमानों को दृढ़ता से धार्मिक चरमपंथ का विरोध करना चाहिए.

सरकारी शिन्हुआ समाचार एजेंसी के अनुसार, 10 वें नेशनल कांग्रेस में चीनी मुसलमानों को संबोधित करते हुए वांग जुओन ने कहा कि चीन में इस्लाम के विकास को चीनी विशेषताओं वाले समाजवाद से जुड़ा रहना चाहिए. इसके साथ ही उन्होंने कहा मुस्लिम मान्यताओं और रीति रिवाजों का सम्मान किया जायेगा लेकिन राजनीति, न्याय और शिक्षा के क्षेत्र में धार्मिक हस्तक्षेप को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

इसके अलावा उन्होंने कहा कि नई मस्जिदों के निर्माण में चीनी विशेषताओं और राष्ट्रीय खूबियों को प्रदर्शित करना चाहिए. साथ ही विदेशी वास्तुकला शैलियों से बचा जाएँ. उन्होंने इस दौरान इस्लामिक एसोसिएशन ऑफ चाइना’ के कामों की भी तारीफ़ की.

गौरतलब रहें कि चीन की सरकार ने हाल ही में मुस्लिम बहुल शिनचियांग प्रांत में रहने वाले मुस्लिमों के लिए एक नया फरमान जारी किया जिसके अंतर्गत अब मुसलमानों को हर धार्मिक गतिविधि की जानकारी सरकार को देनी होगी.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें