am

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के एक वीटो को अमरीकी कांग्रेस ने ने रद्द कर दिया है. जिसके बाद अब 9/11 घटना के पीड़ित अब सऊदी अरब पर केस चला सकेंगे.

अमरीकी कांग्रेस ने 9/11 के प्रभावितों को सऊदी अरब के खिलाफ शिकायत करने और उससे हर्जाना मांगने का अधिकार देने वाले विधेयक को पारित कर दिया था किंतु अमरीकी राष्ट्रपति ने अपने विशेषाधिकार को प्रयोग करते हुए इस विधेयक पर दस्तखत करने के बजाए उसे वीटो कर दिया था लेकिन अब फिर से अमरीकी कांग्रेस में हुए मतदान में 74 मतों के मुक़ाबले में 338 मतों से ओबामा के वीटो को ही निरस्त कर दिया गया है. इस वीटो के खारिज होने से‘आतंकवाद के प्रायोजकों के खिलाफ न्याय (जेएएसटीए)’अधिनियम अब कानून बन गया है.

और पढ़े -   ब्रिटेन में फिर से मस्जिद पर हमला, मैनचेस्टर इस्लामिक सेंटर को आग से भारी नुकसान

राष्ट्रपति के तौर पर ओबामा के आठ वर्षों के कार्यकाल में यह पहला मौका है, जब उनके वीटो को सीनेट ने दरकिनार किया है. इससे पहले ओबामा ने अपने राष्ट्रपति के कार्यकाल में अभी तक 11 वीटो लगाए थे, जिसमे सभी पर संसद की सहमति मिली गयी थी.

गौरतलब रहें कि इस विधेयक के खिलाफ सऊदी अरब के विदेश मंत्री ने ओबामा प्रशासन को धमकी दी थी कि अगर इस विधेयक को वीटो नहीं किया गया तो रियाज़ अमरीका से अपना निवेश वापस कर लेगा.

और पढ़े -   सीआईए एजेंट का खुलासा: 9/11 आतंकी हमले को सीआईए की देखरेख में दिया गया था अंजाम

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE