अफगान तालिबान ने रमजान के महीने में युद्धविराम से इंकार करते हुवे कहा कि वह इस महीने में अपने हमलों को और बढ़ायेगा. संयुक्त राष्ट्र मिशन तथा अफगानिस्तान सरकार संचालित उच्च शांति परिषद ने अफगान तालिबान से युद्ध विराम की अपील की थी. लेकिन अफगान तालिबान ने इसे सिरे से ही ख़ारिज कर दिया हैं.

संयुक्त राष्ट्र के अफगानिस्तान स्थित प्रतिनिधि निकोलस हैशम के अनुसार अफगानिस्तान के संघर्ष में शामिल सभी पक्षों से रमजान के महीने में युद्धविराम की अपील की थी ताकि उनके परिवार शांति के साथ रमजान के महीनें में रोजा रख सकें और अल्लाह की इबादत कर संके.

उन्होंने उम्मीद की हैं कि रमजान के महीने को शांति के साथ मनाने से अफगानिस्तान में स्थायी शांति स्थापित होंगी. उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र शांति सुरक्षा, स्थिरता तथा समृद्धि के अफगानिस्तान की जनता के प्रयास में उसके साथ है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें
SHARE