बेरुत : सीरिया में सेना और विद्रोहियों से घिरे शहर मडाया में इस महीने के शुरू में सहायताकर्मियों के काफिले के आने के बाद से सोलह और लोगों की भूख से मौत हो गयी है. यह जानकारी डॉक्टर्स विदआउट बॉर्डर्स ने दी है. मानवीय समूह ने चेताया है कि शहर के कई दर्जन निवासियों की जिंदगी पर मौत का खतरा मंडरा रहा है, क्योंकि वे गंभीर कुपोषण से पीड़ित हैं.

और पढ़े -   ओआईसी महासचिव ने इस्लामिक एकता को लेकर दिया जोर

एमएसएफ के मुताबिक, मडाया में दिसंबर से 46 लोग भूख की वजह से दम तोड़ चुके हैं. इसमें ताजा मौतों का आंकड़ा भी शुमार है. दमिश्क प्रांत में स्थित मडाया सरकार के घेराबंदी वाले इलाके में आता है और कई बार के टलने के बाद शुक्रवार से शुरू हुई शांति वार्ता में यह भी एक प्रमुख मुद्दा है.

मडाया की स्थिति कथित तौर पर बहुत बदतर है. सरकारी सैनिकों ने करीब 42,000 नागरिकों को घेरा हुआ है और शहर के आसपास बारुदी सुरंगे बिछा दी हैं ताकि लोग जा न सकें. (prabhatkhabar)

और पढ़े -   ईसाईयों पर हुए आतंकी हमलें के बाद राष्ट्रपति सीसी ने कहा - किसी भी आतंकी को बख्शा नहीं जाएगा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE