haj

इस्लाम धर्म की पवित्र हज यात्रा पर इस साल भी सीरियाई मुसमलान नहीं जा सकेंगे. पिछले चार सालों से लगातार सीरियाई मुसलमान हज से वचिंत हैं. सऊदी अरब सरकार द्वारा पाबंदी लगाये जाने की वजह से सीरियाई मुसलमान हज अदा नहीं कर पा रहे हैं.

सीरिया के वक़्फ़ और हज विभाग के प्रमुख “मोहम्मद अब्दुस्सत्तार सय्यद” ने इस मामलें में बयान जारी कर कहा कि  सऊदी अरब ने अपनी हठधर्मी को बाक़ी रखते हुए सीरियाई मुसलमानों को इस साल भी हज से वंचित रखा हैं. उन्होंने कहा कि सऊदी अरब की शाही सरकार के हज मंत्रालय ने सीरिया के वक़्फ़ और हज विभाग के साथ तय हुए समझौते और इस संबंध में किए गए अपने वादों का उल्लंघन किया है.

और पढ़े -   यमन, रोहिंग्या सहित कई मुद्दों पर ईरानी राष्ट्रपति का संयुक्त राष्ट्र महासभा बैठक में विमर्श

मोहम्मद अब्दुस्सत्तार ने आगे कहा कि सऊदी सरकार हर साल सभी देशों के साथ इस तरह के समझौते करती है, लेकिन सभी धार्मिक और नैतिक नियमों का खुल्लम खुल्ला उल्लंघन करके पवित्र हज पर जान के लिए सीरियाई मुसलानों के रास्ते में लगातार रोड़े अटका रही है.

उन्होंने आगे कहा कि “हरामैन शरीफ़ैन” अर्थात पवित्र मक्का, मदीना में आयोजित होने वाले धार्मिक संस्कारों के आयोजकों को जान लेना चाहिए कि हज पर आने वाले तीर्थयात्रियों को प्रदान की जाने वाली सुविधाओं और उनकी सुरक्षा को किसी भी राजनीतिक और धार्मिक भेदभाव से ऊपर होकर देखने की आवाशकता है, ताकि सभी मुसलमान किसी प्रकार की कठिनाई के बिना हज अदा कर सकें.

और पढ़े -   चीन ने सोशल मीडिया पर इस्लाम विरोधी शब्दों के इस्तेमाल पर लगाई पाबंदी

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE