अरबिल: पिछले साल हुई एक त्रासदिक घटना में समुद्र में डूबने से मरे सीरियाई बच्चे का पिता अब्दुल्ला कुर्दी अपने बेटे पर बने उस विवादस्पद कार्टून को देख रो पड़ा जिसमें उसके बेटे को भावी बलात्कारी के तौर पर पेश किया गया है। कुर्दी ने कहा कि इस कार्टून से उसका पूरा परिवार सदमे में है।

शार्ली हेब्दो पत्रिका के विवादित कार्टून पर रो पड़े सीरियाई बच्चे के पिता

कुर्दी ने कल टेलीफोन पर हुई बातचीत में कहा, ‘जब मैंने यह तस्वीर देखी, मैं रो पड़ा। मेरा परिवार अब भी सदमे में है।’ एक लिखित बयान में उन्होंने यह भी कहा कि फ्रांसीसी व्यंग्य पत्रिका शार्ली हेब्दो में प्राकशित यह कार्टून ‘अमानवीय और अनैतिक’ है और यह उतना ही बुरा है जितना कि किसी ‘युद्ध अपराधी और आतंकवादी’ की गतिविधि, जिसके कारण सीरिया और कहीं भी चारों ओर मौत का मंजर और विस्थापन देखने को मिल रहा है।

अब्दुल्ला के तीन वर्षीय बेटे आयलान का शव यूनान से बहकर तुर्की के तट पर आया था। औंधे मुंह पड़े मासूम आयलान के शव की इस उदास तस्वीर ने शरणार्थियों की दुर्दशा पर ध्यान आकर्षित किया जो जोखिम उठाकर यूरोप की यात्रा करते हैं। घटना में आयलान के चार वर्षीय भाई और उसकी मां की मौत हो गई थी।

शार्ली हेब्दो ने आयलान का एक कार्टून प्रकाशित किया है जिसमें आयलान को एक ऐसे व्यक्ति को तौर पर दिखाया गया है जो एक महिला का पीछा करता है और कहता है- अगर छोटा आयलान बड़ा हो जाए तो वह क्या बनेगा? सोशल नेटवर्किंग साइट पर शार्ली हेब्दो के इस कार्टून की कड़ी आलोचना हो रही है, वहीं कनाडा में रह रहे आयलान के रिश्तेदारों ने इस पर नाराजगी जाहिर की है। वहीं पत्रिका ने इस बारे में कुछ भी कहने से इनकार किया है। (zeenews)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें