दमिश्क: सीरियाई सेना ने मध्य सीरिया के प्राचीन ऐतिहासिक शहर पल्मायरा पर पूर्ण रूप से कब्जा कर लिया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, सेना ने आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) के साथ कई दिनों के संघर्ष के बाद शहर को एक बार फिर अपने कब्जे में ले लिया।

ISIS को एक और झटका, सीरियाई सेना ने पल्‍मायरा शहर पर पूर्ण रूप से कब्‍जा किया

सीरियाई सेना और इसके संबद्ध लड़ाकों ने पल्मायरा में आईएस के आखिरी ठिकाने को भी ध्वस्त कर दिया और अब वह शहर में विस्फोटकों की तलाशी के अभियान में लगी हुई है।

और पढ़े -   रोहिंग्या समूह ने कहा – म्यांमार मुस्लिमों के नरसंहार में लगा हुआ

मानवाधिकार संगठन सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स के मुताबिक, पल्मायरा में हाल ही में हुए संघर्षों में आईएस के 400 से अधिक आतंकवादी मारे गए हैं।

इस संबंध में रविवार को एक जांच समिति की रिपोर्ट में यह जानकारी सामने आई है। पल्मायरा पर कब्जा जमाने के लिए तीन सप्ताह तक चले सैन्य अभियान को रूस और शिया लड़ाकों का समर्थन प्राप्त है। इस दौरान सीरियाई सेना के 180 जवान मारे गए हैं।

और पढ़े -   मिस्र ने हाजियों के लिए गाजा क्रासिंग को खोला

सेना के जनरल कमांड ने कहा कि पल्मायरा में आईएस की हार उसके पतन की शुरुआत है। सेना ने कहा, ‘पल्मायरा पर दोबारा कब्जा करना आईएस आतंकवादियों के लिए बड़ा झटका है। यह संगठन के लिए काफी घातक है और उसके पतन की शुरुआत है।’

एक सैन्य सूत्र ने कहा कि सीरियाई सेना के भारी हमले और बमबारी के बीच आईएस ने शहर से पीछे हटना शुरू कर दिया है। सूत्र ने पहचान उजागर नहीं करने की शर्त पर बताया कि आईएस के लड़ाके होम्स के सुखेनाह शहर से पीछे हट गए हैं।

और पढ़े -   शाह सलमान ने कत्तरी हाजियों के लिए सलवा बॉर्डर को खोलने का दिया आदेश

उन्होंने बताया कि पल्मायरा में विस्फोटक लगे हुए हैं और बम निरोधक दस्तों ने विस्फोटकों को निरस्त करना शुरू कर दिया है।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE