आस्ताना बैठक के बाद सेफ जोन बनाने के हुए फैसले के बाद माना जा रहा था कि सीरिया में तनाव कम होगा. लेकिन अमेरीका, ब्रिटेन और जॉर्डन ने दक्षिणी सीरिया में अपने सैनिक तैनात कर फिर से तनाव पैदा करना शुरू कर दिया है.

सीरिया की दक्षिणी सीमा पर दरआ और सुवैदा प्रांतों से लेकर, तल शहाब के देहाती इलाक़े तक जॉर्डन की सीमा से कुछ मीटर की दूरी पर इन सैनिकों ने मोर्चा संभाल लिया है. ये सैनिक टैंकों और हेलिकॉप्टरों से लैस हैं. इन सैनिकों को जॉर्डन के एक शहर रमसा के निकट भी देखा गया है, जो सीरियाई सीमा से लगा हुआ है.

और पढ़े -   अलकायदा ने किया मदद का ऐलान, रोहिंग्या बोले नहीं चाहिए आतंकियों से कोई मदद

सीरियाई ज्वाईंट कमांड के मीडिया ब्यूरो ने हवा से ली गई कुछ तस्वीरें जारी की हैं, जो ड्रोन से ली गई हैं, जिसमें देखा जा सकता है कि इलाक़े में बड़ी संख्या में ब्रिटिश टैंक और अमरीकी ब्लैक हॉक हेलिकॉप्टर मौजूद हैं.

ग्राउंड पर मौजूद सैनिकों की सही संख्या के बारे में अभी तक कोई विस्तृत जानकारी मौजूद नहीं है, लेकिन स्थानीय सूत्रों के मुताबिक़, सीरिया-जॉर्डन सीमा पर लगभग 2000 सैनिकों को तैनात किया गया है. एक दूसरी रिपोर्ट में कहा गया है कि क़रीब 4000 सैनिकों को जॉर्डन में प्रशिक्षण देकर, इलाक़े में तैनात किया गया है.

और पढ़े -   रोहिंग्या नरसंहार के चलते ब्रिटेन ने म्यांमार सेना को दी जाने वाली मदद पर लगाई रोक

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE