judge

सिंगापुर के एक 17 वर्षीय ब्लॉगर को गुरुवार को छह हफ्ते की जेल की सजा सुनाई गई है. यह सजा उसे मुस्लिमों और ईसाईयों का अपमान करने पर सुनाई गई हैं.

अमोस यी नामक इस ब्लॉगर के खिलाफ पुलिस में 24 शिकायतें दर्ज कराई गई थी. अमोस यी ने मुस्लिमों का अपमान करने के उद्देश्य से एक फोटो और दो वीडियो अपलोड किये थे.

इस बारे में अदालत ने कहा कि कई मौकों पर उसने जानबूझकर ऐसे घृणास्पद और अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल किया है तथा ऐसे संकेत दिए हैं जिनसे मुस्लिम और ईसाई समुदाय के लोगों की भावनाएं आहत होती हों.

प्रधान जिला न्यायाधीश आंग हियान सुन ने कहा कि यी के पास अपनी कथनी या करनी के जरिए अच्छा या बुरा करने की क्षमता है.  उन्होंने आगे कहा, उनकी तिरस्कारपूर्ण टिप्पणियां हमारे समाज में अशांति पैदा कर सकती हैं और धार्मिक समरसता को नुकसान पहुंचा सकती है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें