brit

ब्रिटिश सिख समूह ने भारत में 1984 के ऑपरेशन ब्लू स्टार में ब्रिटेन सरकार की कथित भूमिका की जांच की मांग उठाई है.

सिख फेडरेशन यूके की ओर से तैयार की गई रिपोर्ट ‘सैक्रिफाइजिंग सिख : द नीड फॉर एन इंवेस्टिगेशन’ का हवाला देते हुए कहा गया कि तत्कालीन पीएम मार्गरेट थैचर ने एसएएस के एक ऑफिसर को ऑपरेशन ब्लूस्टार से पहले इंडियन सेना को सलाह देने के लिए भेजा था.

हाउस ऑफ कॉमन्स में चुनी गयी पहली महिला सिख सांसद  ऑल पार्टी पार्लियामेंटरी ग्रुप ऑन ब्रिटिश सिख की अध्यक्ष प्रीत कौर गिल का कहना है, ‘‘मैं ‘सैक्रिफाइजिंग सिख’ रिपोर्ट के परिणाम को लेकर बहुत चिंतित हूं. यह दिखाता है कि हेयवुड की समीक्षा सिर्फ लीपापोती थी.’’

ध्यान रहे 2014 में नौकरशाह जेरेमी हेयवुड ने अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में हुए ऑपरेशन ब्लूस्टार में ब्रिटिश स्पेशल एयर सर्विस की किरदार की आंतरिक समीक्षा की थी.

गिल ने कहा कि पहले  दूसरे विश्व युद्ध में सिखों के सहयोग को अच्छी तरह जानते हुए भी ब्रिटिश गवर्नमेंट ने उनके विश्वास को धोखा दिया  हजारों की संख्या में सिखों की मर्डर में अप्रत्यक्ष रूप से भागीदार रहे.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE