Malaysia Shariah High Court Judges were two women

मलेशिया में दो महिलाओं को इस्लामिक शरिया हाईकोर्ट का न्यायायधीश करने का फैसला किया गया हैं. नूर हुदा रोसलान और नेनी शुहैदा शम्सुद्दीन को सेलेनगोर के सुल्तान शरफुद्दीन इदरीस शाह ने नियुक्ति का आधिकारिक पत्र प्रदान करते हुए नियुक्ति दे दी हैं.

मलेशिया के न्यायपालिका के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ कि महिलाओं को शरिया अदालत का न्यायाधीश नियुक्त किया गया है. शरिया हाईकोर्ट ने शरिया मामलों को देखता है और इसके न्याय क्षेत्र में सिर्फ मुस्लिम समुदाय होता है.

और पढ़े -   नेपाल सरकार ने पतंजलि के 7 प्रोडक्‍ट पर लगाया बैन, क्वालिटी टेस्ट में हो गए फ़ैल

नूर और नेनी ने कहा कि यह न्यायपालिका का सकारात्मक विकास है. उन्होंने कहा, मेरा मानना है कि भविष्य में और महिलाओं को जिम्मेदारी सौंपी जाएगी.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE