rohingya child
फोटो खलीज टाइम्स

सात वर्ष का एक बच्चा जिसने अभी तक स्कूल की यूनिफार्म पहनी हुई है, बांग्लादेश के कीचड़ भरे रास्ते पर नंगे पाँव दौड़ा चला आ रहा है. उसकी पीठ पर एक मासूम बच्ची भी है जो देखने में काफी भूखी और डरी हुई मालूम पड़ती है. उस छोटे बच्चे का नाम योसार हुसैन है जो म्यांमार से भागकर अपनी जान बचाते हुए बांग्लादेश पहुंचा है और जो छोटी बच्ची उसकी पीठ पर है वो उसकी छोटी बहन है.

म्यांमार में हुई हिंसा में आधे से ज्यादा मुस्लिम हैं जिसमे दो तिहाई बच्चे हैं.

योसार बता रहा है कि “मेरी बहन बहुत भारी है, उसे नहीं लगता की वह उसे पुरे रास्ते ले जा सकेगा”. योसार ने अभी दो हफ्ते पहले अपने पिता के साथ साथ अपना घर व अपना देश खोया है.

म्यांमार में रोहिंग्या लोगो पर हुई हिंसाओं के कारण वहाँ से कई लोग भाग कर बांग्लादेश चले गए. यह हिंसा 25 अगस्त से हुई जब म्यांमार सेना ने मुस्लिम अल्पसंख्यक के सदस्यों पर क्रूर कार्यवाही करी सैनिकों और बुद्धिस्ट लोगो ने गांवो में लूटपाट और लोगो को जलाना शुरू कर दिया था.

योसार की माँ फिरोजा बेगम कहती हैं कि “रत्थेदंग शहर में उनके घर पर दो सप्ताह पहले ही हमला किया गया, उन्होने आग की लपटे देखीं जो उनके सामानों को निगल रही थी.” आगे बताती हैं की योसार के पिता इसे बाहर करने की कोशिश कर रहे थे परन्तु उन्हे गोली मार दी गयी परन्तु योसार और उसकी माँ उसकी तीन बहनों के साथ भागने में कामयाब रही.

वह छह दिनों तक चलते रहे, उनके साथ योसार के कुछ चचेरे भाई और उसकी दो चाचियाँ थी, खाने को वही खा रहे जो उन्हे रास्ते में मिलता, बताती हैं की जब तक नाफ नदी के किनारे नहीं पहुंचे तब तक आराम भी नहीं किया.

वहाँ वह एक नुकीली बोट में बैठकर बन्गलादेश गए परन्तु वह वहाँ भी एक दिन तक नंगे पांव कभी ट्रक के पीछे से कभी रिक्शा के अन्दर चलते गए . योसार ने अभी तक वाइट ग्रीन र्रंग की एक स्कूल ड्रेस पहनी है जो उसने म्यांमार से भागते समय भी पहनी थी.

बताता है की मैने ब्लैक शूज और ब्लैक मौजे भी पहने थे परन्तु उन्हे लाना भूल गया और अंत में 2 अक्टूबर को योसार और उसका परिवार बांग्लादेश किसी रिश्तेदार के घर गए, उसने पुरे रास्ते अपनी बहन को संभाल के रखा.

(  khaleejtimes.com पर प्रकाशित खबर के हिंदी अंश )


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE