एक सऊदी ड्राइवर को मंगलवार को मौत की सज़ा दे दी गई। इस ड्राइवर को कोर्ट ने महिला मालिक का अपहरण करने के बाद रेप करने की कोशिश करने का दोषी ठहराया था। इस साल सऊदी अरब में ये 64वीं मौत की सज़ा पर अमल किया गया।

सऊदी अरब के गृह मंत्रालय ने एक बयान में बताया कि मुफरिह बिन अहमद खामीस ने महिला को उसके बच्चे समेत अगवा कर लिया। ये उस वक्त किया गया जब महिला को वो कार से स्कूल छोड़ने जा रहा था जहां वो काम करती थी। आरोप के मुताबिक खामीस उस वक्त शराब के नशे में था। उसने महिला को ना सिर्फ मारा बल्कि एक निर्जन स्थान पर उसके साथ रेप की कोशिश भी की। पैसे और फोन छीनने के बाद वो महिला और बच्चे को छोड़कर भाग गया।

और पढ़े -   म्यांमार में हज़ारों रोहिंग्या मुस्लिम बच्चे भुखमरी के शिकार: सयुंक्त राष्ट्रसंघ

एक्स्प्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के मुताबिक खामीस को आभा शहर में सज़ा-ए-मौत दी गई। सऊदी अरब में अधिकतर मामलों में तलवार से सिर कलम कर मौत की सज़ा दी जाती है।

सऊदी अरब में इस साल 2 जनवरी को ही 47 लोगों को आतंकवाद के आरोप में सज़ा ए मौत दी गई थी। (News24)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE