सऊदी अरब की सबसे बड़ी कंपनियों में से एक बिनलादिन समूह ने पचास हज़ार लोगों को नौकरी से निकाले जाने की खबर है ।  पिछले साल सितंबर में मक्का की मस्जिद में हुए क्रेन हादसे में 107 लोगों की मौत हो गई थी इसके बाद इस कंपनी को दोषी पाते हुए सरकार ने इस पर प्रतिबन्ध लगा दिया था। इस कारण कंपनी ने अपने कर्मचारियों की छंटनी की हैं।

और पढ़े -   तुर्की सीरियाई हाजियों की मदद के लिए आगे आया

C-06-06-11-ee

बिन लादिन समूह को ल कायदा के पूर्व सरगना ओसामा बिन लादेन परिवार चलाता है। इस कंपनी को दशकों से सऊदी शाही परिवार से बड़े निर्माण के कॉन्ट्रैक्ट मिलते रहे हैं. इनमें दुनिया में मुसलमानों के सर्वोच्च धार्मिक स्थल मक्का में हरम शरीफ़ के विस्तार की परियोजना भी शामिल थी। इस कंपनी में कर्मचारियों की संख्या कभी दो लाख तक थी।

और पढ़े -   यमन युद्ध में मरने वाले 50 प्रतिशत बच्चे सऊदी हमलों में मरे: सयुंक्त राष्ट्र

कई बार कंपनी के कुछ कर्मचारियों ने छिटपुट विरोध भी जताया क्योंकि महीनों से उन्हें वेतन नहीं मिला है। सिराज वहाब कहते हैं कि कर्मचारियों की छंटनी के कंपनी के फैसले से जो लोग प्रभावित होंगे उनमें हजारों भारतीय भी शामिल हैं।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE