obama

वाशिंगटन – अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने आज उस विधेयक पर वीटो कर दिया जिसके कानून बनने पर 11 सितंबर के पीड़ितों को हर्जाने के लिए सऊदी अरब पर मुकदमा करने की अनुमति मिल जाती.

ओबामा ने इस आशंका के कारण वीटो इस्तेमाल किया कि इस कदम का अमेरिका के राष्ट्रीय हितों पर गंभीर प्रभाव पड़ सकता है. इस बारें में उन्होंने कहा ‘किसी आतंकवादी हमले के पीछे किसी विदेशी सरकार का हाथ हो सकने के संकेतों पर प्रतिक्रिया देना हमारे लिए न तो प्रभावशाली और न ही समन्वित तरीका है.’

और पढ़े -   केरल: सड़क का नाम रखा गया 'गज़ा', फिलिस्तीनी नाम होने पर उठाई गई आपत्ति

ओबामा ने आगे कहा, आतंकवाद के प्रायोजकों के खिलाफ न्याय’ (जेएएसटीए) अधिनियम को रिपब्लिकन पार्टी के नियंत्रण वाली कांग्रेस के दोनों चैंबर्स ने पास कर दिया था. इस विधेयक के पारित होने से संप्रभुता संबंधी पुराना अंतरराष्ट्रीय सिद्धांत खतरे में पड़ जाता और इससे अमेरिकी हितों एवं विदेश में रह रहे देश के नागरिकों पर बुरा प्रभाव पड़ता.

व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव जोश अर्नेस्ट ने अमेरिका के राष्ट्रपति के इस निर्णय को सही ठहराते हुए कहा कि ओबामा कांग्रेस के सदस्यों से नियमित बातचीत के बजाय इस विधेयक के अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा पर पड़ सकने वाले दीर्घकालीन परिणाम को लेकर चिंतित हैं.

और पढ़े -   लंदन में हुए नमाजियों पर आतंकी हमले को पीएम टेरीजा ने बताया भयावह

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE