file-25-King Salman - GCC 9 dec 2015 Crown prince and Dupty CP

अमरीका और संयुक्त राष्ट्र संघ ने एक ही दिन में सऊदी अरब को दो तगड़े झटके दिए हैं।। पहला झटका अमरीका ने सऊदी अरब को दिया है और घोषणा की है कि वह न केवल यह कि यमन के अंसारुल्लाह संगठन को आतंकी संगठन नहीं मानता बल्कि उसे यमन संकट की समाप्ति के कुवैत में जारी राजनैतिक वार्ता के एक पक्ष के रूप में मान्यता देता है।

और पढ़े -   'आले सऊद और अरब देशों के नेताओं ने अमेरिका के हाथों अपना ईमान भी बेच दिया'

रशिया टुडे के मुताबिक सऊदी अरब के लिए यह एक बड़ा झटका है। अमेरिका, यमन के अलबैज़ा प्रांत में अंसारुल्लाह संगठन के खिलाफ लड़ने वाले मंसूर हादी के समर्थक कबीले और उसके सरदार को आतंक के समर्थकों की सूची में पहले ही डाल चुका है। सऊदी अरब को दूसरा बड़ा झटका संयुक्त राष्ट्र संघ ने दिया है। संयुक्त राष्ट्र ने सऊदी मिलिट्री एलायंस को ब्लैक लिस्ट कर दिया है।

और पढ़े -   ब्रिटेन में हुए धमाके के पीछे आत्मघाती हमलावर का था हाथ, मरने की वालो की संख्या पहुंची 22

संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव ने कहा है कि सऊदी मिलिट्री एलायंस बच्चों के अधिकारों का हनन करने वाला गुट बन चुका है। यमन के युद्ध में मारे जाने वाले बच्चों में से 70 प्रतिशत की हत्या के लिए सऊदी अरब के नेतृत्व वाले सैन्य गठजोड़ को दोषी माना है। एमनेस्टी इंटरनैश्नल जैसे मानवाधिकार संगठन सऊदी अरब पर यमन में क्लस्टर बमों के प्रयोग और अस्पतालों और उपचारिक केंद्रों को निशाना बनाने का आरोप लगाते रहे हैं।

और पढ़े -   सऊदी हुकूमत ने रमजान में आने वाले जायरीनों के लिए सर्वोत्तम सेवाएं सुनिश्चित की

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE