प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी और सऊदी किंग सलमान बिन अब्दुल अज़ीज़ ने कहा है कि दोनों राष्ट्र आतंकवाद के खिलाफ मिल कर लड़ेंगे। विश्व में बढ़ते आतंकवाद के ख़तरे को देखते हुए दोनों राष्ट्रों ने एक संधि पर भी हस्ताक्षर किये। ‘गल्फ न्यूज़’ के मुताबिक आतंकवाद पर रियाद के साथ हुई संधि के बाद मीडिया से मोदी ने कहा कि आतंकवाद को टुकड़ों में बांट कर लड़ने से किसी को भी फायदा लाभ नहीं होगा।

बल्कि इसका दुष्परिणाम ये होगा कि ये किसी दूसरे देश या स्थान पर किसी दूसरे नाम और शक्ल में पहले से ज्यादा ताकतवर होकर सामने आयेगा। इसलिए बेहतर होगा कि सभी देश एकजुट होकर हर किसी तरह के आतंक के खिलाफ एकजुट हों। मोदी ने यह भी कहा कि दुनिया के कुछ देश गुड टेररिज़्म और बैड टेररिज़्म के चक्कर में फंसे हुए हैं। आतंक का कोई देश, धर्म, रंग और जाति नहीं है।

इससे पहले मोदी ने द्विपक्षीय व्यवसाय से संबंधित संधि पर भी हस्ताक्षर किये। उन्होंने सऊदी अरब की बिजनैस कम्युनिटी को भारत में निवेश के लिए आमंत्रित किया।उन्होंनें सऊदी अरब की बिजनैस कम्युनिटी को बताया कि भारत का महौल काम करने और पैसा कमाने के लिए दुनिया में सबसे बेहतर है। भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सऊदी अरब की सरकार ने सऊदी के सर्वोच्च नागरिक सम्मान से सम्मानित किया। सम्मान पत्र और अंग वस्त्र सऊदी किंग सलमान बिन अब्दुल अज़ीज़ ने खुद मोदी को भेंट किया। (News 24)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें