नई दिल्ली: रूस की फॉरेन अफेयर्स कमेटी के मुखिया एलेक्सी पुश्कोव ने कहा है कि सऊदी अरब शिया मुसलमानों के खिलाफ मुस्लिम देशों का संगठन बना रहा है। ‘तेहरान टाइम्स डॉट कॉम’ में ‘प्रेस टीवी’ के हवाले छपी खबर में कहा गया है कि पुश्कोव ने यह बयान रूसी संसद में दिया है। समझा जाता है कि पुश्कोव के बयान को तेहारन में भी काफी गंभीरता से लिया है। जिस समय पुश्कोव का बयान आया ठीक उसी समय बहरीन, कुवैत और सूडान ने ईरान से संबंध खस्म किये जाने की घोषणा की है।

और पढ़े -   वेटिकेन दौरे के दौरान हिजाब में रही मेलानिया ट्रम्प, जबकि सऊदी अरब में किया था नजरअंदाज

इसका मतलब यह भी लगाया जा रहा है कि सऊदी अरब काफी पहले से ईरान के खिलाफ षडयंत्र कर रहा था। जबकी सऊदी अरब ने से संबंध खत्म करते समय ईरान पर आरोप लगाय था कि ईरान सऊदी अरब को कमजोर करने और क्षेत्र में अस्थिरता फैलाने की साजिश में लगा हुआ है। अंतर्राष्ट्रीय राजनीति के जानकारों का कहना है कि सऊदी अरब और ईरान के पीछे भी रूस और अमरीका की प्रतिद्वंदिता है। ईरान को रूसी और सऊदी अरब को अमरीकी समर्थन हासिल है। उधर बहरीन में शिया मुसलमानों पर प्रतिबंध लगाने सकी खबरें भी आ रही हैं। बहरीन में शेख निम्र अल निम्र को फांसी दिये जाने पर सऊदी अरब के खिलाफ प्रदर्शन करने वालों पर बहरीन सरकार सख्त हो गयी है। वहां के अनेकों शिया मुसलमानों को जेल में डाल दिया गया है। साभार; न्यूज़ 24

और पढ़े -   अमेरिका राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने दुनिया भर के मुस्लिमों को दी रमजान की मुबारकबाद

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE