तुर्क राष्ट्रपति रजब तैय्यब अर्दोगान ने यूरोप को चेतावनी देते हुए कहा है कि ‎अंकारा अपने आतंकवाद विरोधी क़ानूनों में कोई बदलाव नहीं करेगा। अर्दोगान ने एक टीवी चैनल से बात करते हुए कहा, यूरोप कहता है कि अपने ‎नागरिकों के यूरोप के लिए वीज़ा आज़ाद होने के बदले हम आतंकववाद विरोधी ‎क़ानूनों में बदलाव करें। लेकिन मैं माफ़ी चाहता हूं, आप अपने रास्ते जाएं और ‎हमें अपने रास्ते पर आगे बढ़ने दें। ‎

और पढ़े -   रोहिंग्या हिंसा पर दलाई लामा ने सु को लिखा पत्र, दिया, बुद्ध का हवाला देकर हिंसा रोकने की मांग की

अर्दोगान का यह बयान तुर्की के प्रधान मंत्री अहमद दाऊद ओग़लू के इस्तीफ़े के ‎एक दिन बाद आया है, जिन्होंने यूरोप के साथ यह समझौता किया था। ‎

इस समझौते के मुताबिक़, तुर्की को यूरोप की ओर से तय किए जाने वाले 72 ‎मापदंडों में से अगले महीने के अंत तक 5 अन्य मानकों को पूरा करना होगा। ‎इन मानकों में आतंकवाद विरोधी क़ानून में परिवर्तन और निजी जानकारी की ‎हिफ़ाज़त करना है।

और पढ़े -   रोहिंग्या समुदाय म्यांमार के जातीय सफाए का हो रहा शिकार: सयुंक्त राष्ट्र

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE