अमेरिकी की सेना ने कहा है कि रूस के लड़ाकू जहाजों ने बालटिक सागर में उसके जंगी बेड़े के बेहद करीब बनावटी हमला किया। पेंटागन सूत्रों के मुताबिक रूस के सुखोई-24 लड़ाकू जहाज अमेरिकी बेड़े के 30 फुट से भी ज्यादा करीब थे। रूस के सुखोई लडाकू जहाज 11 बार अमेरिकी जंगी बेड़े के करीब से गुजरे। अमेरिकी जंगी बेड़े यूएसएस डॉनल्ड कुक ने जब उनसे संपर्क करना चाहा तो उनकी ओर से कोई जवाब नहीं मिला।

एक रूसी स्ट्राइकिंग हेलिकॉप्टर भी यूएसएस डॉनल्‍ड कुक के करीब से 7 बार गुजरा। इस हेलिकॉप्टर से जंगी बेड़े की तस्वीरें भी ली गयीं। अमेरिका का कहना है कि उसका जहाज अंतरराष्ट्रीय क्षेत्र में था। एक अमेरिकी रक्षा अधिकारी के मुताबिक, जहाज के कमांडर ने रूस के लड़ाकू जहाजों के इस बर्ताव को गैर पेशेवर करार दिया है। अमेरिका का यह भी कहना है कि यह घटना समुद्र में असुरक्षित घटनाओं को रोकने के लिए 70 के दशक में हुई संधि के खिला (hindi.news24online.com)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें