मास्को | दुनिया की दो बड़ी महाशक्ति रूस और अमेरिका के बीच की तल्खी जगजाहिर है. दोनों ही देशो में खुद को सर्वश्रेष्ठ सिद्ध करने के लिए हथियारों की होड़ मची रहती है. हथियारों की यही होड़ पूरी मानव जाति के लिए खतरा मानी जा रही है. खासकर सीरिया और उत्तर कोरिया को लेकर दोनों देशो में युद्ध के पुरे हालात बन रहे है. ऐसी स्थिति में तीसरे विश्वयुद्ध का भी खतरा मंडरा रहा है.

ऐसे मौके पर रूस के एक पूर्व कर्नल ने बेहद ही चौकाने वाला खुलासा किया है. उसने बताया की रूस अमेरिका को तबाह करने के लिए उसके तटो पर परमाणु हथियार बिछा रहा है. रुसी अख़बार ‘कोम्सोमोल्स्काया प्रावदा ‘ (Komsomolskaya Pravda) को दिए गए इंटरव्यू में उन्होंने बताया की युद्ध की स्थिति में इन बमों में विस्फोट कर सुनामी लायी जा सकती है जो अमेरिका के तटीय इलाको को भारी नुक्सान पहुंचा सकता है.

और पढ़े -   सांप्रदायिकता वैमनस्य पालने के बजाय अच्छी शिक्षा देने पर ध्यान दे भारत: नोबेल विजेता रामाकृष्णन

पूर्व रुसी कर्नल और रक्षा विशेषज्ञ विक्तोर बरानेत्ज ने इस इंटरव्यू में बताया की दोनों ही देश युद्ध की स्थिति में दोनों ही देश बर्बाद हो जायेंगे. क्योकि रूस अमेरिका को ऐसा जवाब देने की तैयारी कर रहा है जिसके नुक्सान का आंकलन कोई कंप्यूटर भी कैलकुलेट नही कर सकता है. यह जवाब परमाणु बम है. हमारे पास न्युक्लार मिसाइल है जिसमें हवा में विस्फोट किया जा सकता है.

और पढ़े -   इजराइल के किसी भी हमले का जवाब देने के लिये तैयार : ईरानी कमांडर

उन्होंने आगे बताया की अगर अमेरिका रुसी सीमा में अपने टैंक, विमान और सेना की बटैलियन को उतार रहा है तो हम भी उसकी तटीय जमीन के नीचे गुप्त रूप से परमाणु बम गाड रहे है. वो कमांड के साथ ही फट जायेंगे. हालाँकि यह सब बताने के बाद वो थोडा झेप गए और कहने लगे की शायद मैं कुछ ज्यादा ही बोल गया, मुझे अपनी जबान पर नियंत्रण रखना चाहिए था. उधर विक्तोर के दावों को रुसी सरकार ने ख़ारिज किया और कहा की इस इंटरव्यू को गंभीरता से नही लेना चाहिए.

और पढ़े -   ट्रम्प के "फिलिस्तीन नीति" से फिलिस्तीनियो में रोष, जताया विरोध

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE